दुबारा चलाया जाएगा क्रेडिट कार्ड बनाने का अभियान - www.martandprabhat.com
मार्तण्ड प्रभात न्यूज में आपका स्वागत है। अपना विज्ञापन/खबर प्रकाशित करवाने के लिए वाट्सएप करे - 7905339290। आवश्यकता है जिला वा ब्लॉक स्तर पर संवाददाता की संपर्क करें -9415477964

दुबारा चलाया जाएगा क्रेडिट कार्ड बनाने का अभियान

बस्ती :-  प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि से लाभान्वित किसानों का क्रेडिट कार्ड बनाने के लिए पुनः अभियान चलाया जायेगा। शासन द्वारा लिए गये निर्णय की जानकारी देते हुए प्रभारी जिलाधिकारी/सीडीओ सरनीत कौर ब्रोका ने सभी बैंको को निर्देश दिया है कि इस अभियान में छूटे हुए किसानों को कार्ड अवश्य उपलब्ध करा दें। वे सर्किट हाउस सभागार में बैंक एंव कृषि विभाग के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक कर रही थी।
उन्होंने असंतोष व्यक्त किया कि मार्च में संचालित अभियान में 1.90 लाख के सापेक्ष मात्र 58 हजार किसानों का फार्म एकत्र किया गया, जिसमें से बैंको द्वारा 13528 क्रेडिट कार्ड जारी किया गया। भारी संख्या में आवेदन पत्र बैंको द्वारा रिजेक्ट किए गये। इसके कारण प्रदेश में इस अभियान में जिले की प्रगति अत्यन्त खराब रही। वर्तमान में भी मात्र 22 प्रतिशत उपलब्धि है, जो कि काफी खराब है। विगत 05 महीनों में बैंको द्वारा जमा किए गये फार्म के सापेक्ष क्रेडिट कार्ड जारी करने में कोई रूचि नही ली गयी जो अत्यन्त खेदजनक है।
उन्होंने भारतीय स्टेट बैंक, बड़ौदा यू0पी0 बैंक, सेण्ट्रल बैंक,बैंक आफ बड़ौदा, यूनियन बैंक के जिला समन्वयक को निर्देश दिया है कि पेण्डिंग आवेदन पत्र पर स्वीकृत/अस्वीकृत का निर्णय लेते हुए नये अभियान में लक्ष्य के अनुरूप किसान क्रेडिट कार्ड जारी करें।
उन्होंने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की समीक्षा करते हुए निर्देश दिया कि 31 अगस्त तक किसानों से काटे गये प्रिमियम की धनराशि को पोर्टल पर अपलोड करें। अन्यथा की स्थिति में बैंक को स्वयं ही बीमा क्लेम का भुगतान करना होगा।
उन्होंने कहा कि इस वर्ष ज्यादा वर्षा हुयी है। जिले के लगभग 20 गाॅव मैरूण्ड तथा 62 गाॅव जलप्लावित है, जहाॅ फसलहानि हुयी है। ऐसे 82 गाॅव में कृषि, राजस्व एवं बीका कम्पनी की संयुक्त टीम द्वारा का सर्वे किया जा रहा है। इसकी रिपोर्ट के अनुसार फसलहानि की क्षतिपूर्ति करना होगा। उन्होने बताया कि जिले में हर्रैया, विक्रमजोत, दुबौलिया, कप्तानगंज आदि ब्लाक बांढ से ज्यादा प्रभावित रहे है, इसलिए यहाॅ की बैंक शाखाए क्लेम के भुगतान में तेजी लाये। उन्होने निर्देश दिया कि बीमा कम्पनी यदि कोई दावा रिजेक्ट करती है तो इसकी लिखित सूचना कारण सहित किसान को देनी होगी।
जिला कृषि अधिकारी संजेश श्रीवास्तव ने बताया कि इस वर्ष लगभग 80 हजार किसानों के फसल का बीमा किया गया, जबकि पिछले वर्ष मात्र 32 हजार किसानों के फसल का बीमा हुआ है। बैठक में उप निदेशक कृषि डाॅ0 संजय त्रिपाठी, लीड बैंक मैनेजर अविनाश चन्द्रा, एसबीआई से वीएस मिश्रा, इलाहाबाद बैंक से आशीष अग्रवाल, बड़ौदा यू0पी0 बैंक से एके मिश्रा तथा अन्य बैंको के जिला समन्वयक उपस्थित रहें।

1
error: Content is protected !!
×