कुआनो नदी की आरती में उमड़े श्रद्धालुः प्रदूषण से मुक्ति दिलाने का लिया संकल्प - www.martandprabhat.com
मार्तण्ड प्रभात न्यूज में आपका स्वागत है। अपना विज्ञापन/खबर प्रकाशित करवाने के लिए वाट्सएप करे - 7905339290। आवश्यकता है जिला वा ब्लॉक स्तर पर संवाददाता की संपर्क करें -9415477964

कुआनो नदी की आरती में उमड़े श्रद्धालुः प्रदूषण से मुक्ति दिलाने का लिया संकल्प

कुआनो नदी की आरती में उमड़े श्रद्धालुः प्रदूषण से मुक्ति दिलाने का लिया संकल्प

बस्ती। चित्रांश क्लब द्वारा शुक्रवार की देर शाम अमहट घाट पर कुआनो नदी की आरती आस्था, प्रार्थना के साथ सम्पन्न हुई। लोगों ने कुआनो नदी को प्रदूषण मुक्त कराने का शपथ लेने के साथ ही पवित्र कुंआनो से सुखद जीवन की प्रार्थना किया । आयोजित भण्डारे में आरती के बाद श्रद्धालुओं में प्रसाद का वितरण किया गया। कलाकारोें ने झांकी के द्वारा उपस्थित लोगोें का मन मोह लिया।

कार्यक्रम के आरम्भ में कुंआनों की स्वच्छता के लिये जिला पंचायत अध्यक्ष संजय चौधरी, सदर विधायक महेन्द्रनाथ यादव, पूर्व विधायक दयाराम चौधरी, नगर पालिका अध्यक्ष नेहा वर्मा, प्रतिनिधि अंकुर वर्मा , सिद्धार्थशंकर मिश्र, पवन कसौधन, के साथ ही हजारों की संख्या में लोग कुंआनो आरती के साक्षी बने। क्लब संस्थापक राजेश चित्रगुप्त, संरक्षक सन्तोष सिंह, राम कमल सिंह, अध्यक्ष डा. कृष्ण कुमार प्रजापति, अर्चना श्रीवास्तव, अजय कुमार श्रीवास्तव, रत्नाकर श्रीवास्तव आदर्श आदि ने कहा कि आयोजन का मुख्य उद्देश्य बस्ती जनपद की जीवन रेखा कुंआनों से प्रदूषण से मुक्ति दिलाने का है। दुर्भाग्य से कुंआनों फिर बीमार लग रही है। कूडा करकट, गंदा पानी खुले आम कुंआनों में डाला जा रहा है। जब तक कुंआनों प्रदूषण मुक्त नहीं हो जाती चित्रांश क्लब का अभियान जारी रहेगा।

अमहट घाट पर महिलाएं, बच्चे, पुरुष कुंआनो आरती के साक्षी बने। इस दौरान मंगलगान हुआ और दीप जलाकर कुंआनों नदी की आरती उतारी गई। सैकड़ों हाथ कुआनों की अस्मिता बचाने को आगे आए। कुछ ही पल में समूचा घाट जगमगाने लगा। इस दौरान हर किसी ने बस्ती की पौराणिक धरोहर कुआनो को प्रदूषणमुक्त रखने का संकल्प लिया गया।

कार्यक्रम की तैयारी महीनों से चल रही थी। चित्रांश क्लब के निमंत्रण पर शाम होते ही अमहट घाट पर शहर के समाजसेवियों, राजनीतिज्ञों, प्रबुद्धजनों एवं महिलाओं का तांता लगने लगा। कुछ ही देर में अच्छी खासी भीड़ यहां एकत्र हो गई. आयोजकों ने कुआनों आरती के उद्देश्य से सभी को अवगत कराया। कहा यह नदी बस्ती की पौराणिक धरोहर है. इसका क्षरण नहीं होने दिया जाएगा। नदी को प्रदूषणमुक्त रखना होगा। इसके लिए आरती के जरिए आम जनमानस को जागरूक किया जा रहा है। बाद में मंगलगान हुआ और उपस्थिति लोगों के माथे पर तिलक लगाया गया। शाम ढलने के वक्त घाट पर लोग कतारबद्ध हो गए, हर कोई हाथ में फूल और दीपक के साथ आरती गाने लगा। आरती करने वालों पर फूलों की वर्षा की गई। पूरा क्षेत्र दीपक के प्रकाश से जगमगाने लगा. बीच-बीच में देवी-देवताओं के जयकारों का उद्घोष भी हुआ, जिससे माहौल पूरी तरह भक्तिमय हो गया। इस दौरान गंगा आरती की तर्ज पर लोगों ने कुशल क्षेम की मन्नतें भी मांगी. चित्रांश क्लब के पूर्व अध्यक्ष जी. रहमान, शेष नारायण गुप्ता, रेखा चित्रगुप्त, संध्या दीक्षित, प्रतिमा श्रीवास्तव, लक्ष्मी अरोरा, संध्या पाण्डेय, संजू श्रीवास्तव, संज्ञा श्रीवास्तव, सुमन, रागिनी, प्रतिभा श्रीवास्तव आदि ने उपस्थित लोगों का स्वागत करते हुये कहा कि सामूहिक प्रयास से कार्यक्रम सफल रहा। अविनाश श्रीवास्तव ने सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ संचालन करते हुये उद्देश्यों पर प्रकाश डाला। पं. सरोज मिश्र के संयोजन में आरती सम्पन्न हुई।

कार्यक्रम में राजेन्द्रनाथ तिवारी, महेश शुक्ल, जगदीश शुक्ल, राना नागेश प्रताप सिंह, अखिलेश सिंह, अजय गौतम, राजेश श्रीवास्तव, राहुल श्रीवास्तव, प्रशांत, रामानंद नन्हे भइया, संरक्षक परमेश्वर शुक्ल, शीला पाठक, प्रतिमा श्रीवास्तवा, गोपेश्वर त्रिपाठी, प्रीती, इन्दू चित्रगुप्त, निधि श्रीवास्तवा, अवनीश सिंह, प्रकाश मोहन, रणदीप माथुर, सौरभ तिवारी, दिवाकर मिश्र, मुजीब, अमृतपाल ‘सनम’ सर्वेश श्रीवास्तव, आशीष शुक्ल, दुर्गेश श्रीवास्तव, अभिषेक गुप्ता, इस्माइल, अमित चौबे, कुन्दन वर्मा, शरद रावत, राजकुमार शुक्ल, सूर्य कुमार शुक्ल, अमरमणि पाण्डेय, अखिलेश श्रीवास्तव, सुनील गुप्ता, दुर्गेश श्रीवास्तव, मो0 इस्माइल , अंशुल आनंद, राम विनय पाण्डेय, रिंकू सिंह, मनमोहन श्रीवास्तव ‘काजू’ राजेश श्रीवास्तव, मयंक श्रीवास्तव, विजय, अनिल श्रीवास्तव , अमित चौबे, अभिषेक गुप्ता, अतुल चित्रगुप्त, सूरज गुप्ता, अपूर्व शुक्ला, अशोक श्रीवास्तव, देवेन्द्र श्रीवास्तव, के साथ ही हजारों की संख्या में लोगों ने आस्था के इस महान संकल्प में योगदान दिया। प्रशासन द्वारा सुरक्षा और प्रकाश व्यवस्था का व्यापक प्रबन्ध किया गया था।

error: Content is protected !!
×