ट्यूवेल टेक्निकल इम्पलाइज एसोसिएशन ने 17 सूत्रीय मांगो को लेकर धरना दिया - www.martandprabhat.com
मार्तण्ड प्रभात न्यूज में आपका स्वागत है। अपना विज्ञापन/खबर प्रकाशित करवाने के लिए वाट्सएप करे - 7905339290। आवश्यकता है जिला वा ब्लॉक स्तर पर संवाददाता की संपर्क करें -9415477964

ट्यूवेल टेक्निकल इम्पलाइज एसोसिएशन ने 17 सूत्रीय मांगो को लेकर धरना दिया

ट्यूवेल टेक्निकल इम्पलाइज एसोसिएशन ने 17 सूत्रीय मांगो को लेकर धरना दिया

कर्मचारी हितोें की लगातार उपेक्षा कर रही है सरकार- राम अधार पाल

बस्ती 11 अक्टूबर। बुधवार को ट्यूवेल टेक्निकल इम्पलाइज एसोसिएशन सिंचाई विभाग प्रदेश प्रदेश नेतृत्व के आवाहन पर जिलाध्यक्ष महेन्द्र कुमार चौधरी के नेतृत्व में 17 सूत्रीय मांगों को लेकर सिंचाई विभाग के परिसर में धरना दिया गया। धरने में वक्ताओं ने कहा कि एसोसिएशन की प्रमुख मांगों पर भी सरकार चुप्पी साधे हुये है। यदि मांगे शीघ्र पूरी न हुई तो आगामी 6 नवम्बर को प्रमुख अभियंता यांत्रिक लखनऊ कार्यालय के समक्ष प्रदेश व्यापी आन्दोलन, धरना प्रदर्शन किया जायेगा। धरने के बाद मुख्यमंत्री, सिंचाई मंत्री और प्रमुख अभियंता यांत्रिक को सम्बोधित ज्ञापन अधिशासी अभियंता नलकूप संतलाल प्रसाद को सौंपा गया।

सौंपे ज्ञापन में तकनीकी पर्यवेक्षक सेवा नियमावली 2018 को प्रख्यापित कराये जाने, परीक्षा उत्तीर्ण नलकूप मिस्त्रियों का डी.पी.सी. कराकर अवर अभियंता यांत्रिक के पद पर पदोन्नित कराने, पदोन्नित कोटा 24 प्रतिशत से बढाकर 29 प्रतिशत किये जाने, नलकूप मिस्त्रियों की भर्ती कराये जाने, कैशलेस चिकित्सा उपलब्ध कराने, पुरानी पेंशन बहाल किये जाने आदि की मांग शामिल है।

नलकूप खण्ड परिसर में आयोजित धरना प्रदर्शन को सम्बोधित करते हुये राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के कार्यवाहक अध्यक्ष राम अधार पाल ने कहा कि केन्द्र और प्रदेश सरकार कर्मचारी हितों के प्रति गंभीर नहीं है। उन्होने कहा कि विभागीय मांगों के साथ ही पुरानी पेंशन नीति बहाल करने की मांग को लेकर संघर्ष तेज करें। परिषद के जिला मंत्री तौलू प्रसाद ने कहा कि एकजुटता से ही सफलता मिलेगी। धरने को महेन्द्र कुमार चौधरी, रामस्वारथ, अशोक सिंह, सुभाष मिश्र, राजेश कुमार, सन्तोष कुमार, उमेश कुमार, सुधांशु मिश्र, गिरजेश यादव, राकेश जायसवाल, राजेश गुप्ता आदि ने सम्बोधित किया। कहा कि प्रदेश सरकार ट्यूवेल टेक्निकल इम्पलाइज एसोसिएशन की आवश्यक मांगों को भी लगातार अनदेखी कर रही है। मांगे न मानी गईं तो बाध्य होकर प्रदेश नेतृत्व के आवाहन पर संघर्ष और तेज किया जायेगा।

17 सूत्रीय मांगों को लेकर सिंचाई विभाग के परिसर में आयोजित धरने में मुख्य रूप से वीरेन्द्र कुमार मिश्र, ओम प्रकाश मिश्र, राम जनक, अशोक कुमार चौधरी, तुलसीराम, महेन्द्र कुमार चौधरी, जसवन्त राव, विजय कुमार, महेन्द्र प्रताप, अनिल कुमार, प्रेमचन्द्र, अभिषेक चतुर्वेदी, संदीप श्रीवास्तव, अनूप कुमार चौधरी, रामनरेश, वेद प्रकाश मिश्र, रमेश मिश्र, राजेन्द्र चौधरी, योगेन्द्र कुमार, शंखकेशरी नारायण, अवनीश कुमार, राजेश कुमार के साथ ही विभिन्न संगठनोें के पदाधिकारी, सिंचाईकर्मी शामिल रहे।

error: Content is protected !!
×